ख़बरें बदलते भारत की

उत्तराखंड की पहाड़ियों में बर्फ़बारी से दिल्ली ठिठुरी

95
95

Uttrakhand के पहाड़ी इलाकों में कई जगह हिमपात (Snowfall) होने से राजधानी (Capital Region) में मंगलवार को मौसम ठंडा रहा। सुबह बादल छाने से काफी ठिठुरन रही। मौसम विज्ञान केंद्र (Meteorological Department)  के अनुसार अगले कुछ दिन आसमान में आंशिक रूप से बादल छाए रहेंगे। पर्वतीय इलाकों (Hilly areas) में कई जगह हल्की बारिश और हिमपात हो सकता है। मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि राज्य में कहीं-कहीं विशेषकर ऊंचाई वाले इलाकों में अगले 24 घंटों में हल्की बारिश और हिमपात हो सकता है। मैदानी क्षेत्रों में कोहरा छाने की संभावना है। अधिकतम तापमान 20 डिग्री और न्यूनतम 4.7 डिग्री रहने का अनुमान है।

पहाड़ों से आ रही तेज रफ्तार बर्फीली हवाओं ने मंगलवार को गलन बढ़ा दी। दिन में तेज धूप खिली जिससे कुछ राहत मिली। मौसम विभाग की मानें तो शनिवार तक पश्चिमी विक्षोभ की स्थिति फिर बन सकती है। फिलहाल शीत लहरी से राहत की उम्मीद नहीं है। तापमान में तेजी से उतार-चढ़ाव न होने से सर्दी को लेकर भी अनिश्चितता बनी हुई है। दिन के तापमान में बहुत कमी न होने और रात के तापमान के बार-बार स्थिर हो जाने से माना जा रहा है कि सर्दी लंबे समय तक चलेगी लेकिन अत्याधिक सर्दी नहीं पड़ेगी। 12 जनवरी के करीब पश्चिमी विक्षोभ का अनुमान लगाया जा रहा है। यदि यह विक्षोभ तीव्र हुआ तो मौसम में दो-चार दिन फिर बदलाव दिख सकता है। फिलहाल सर्दी हवा पर निर्भर रहेगी। मंगलवार को हवा की गति छह किमी प्रति घंटा के औसत से घटकर तीन किमी प्रति घंटा पर पहुंच गई। परिणाम स्वरूप दिन का तापमान 20.8 से बढ़कर 21.4 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया। रात में तेज हवाएं रहने से पारा 9.8 से घटकर 9.0 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया। उत्तर पश्चिमी बर्फीली हवाओं के कारण गलन से लोग ज्यादा परेशान रहे। दोपहरबाद धूप की तीव्रता में भी वृद्धि हुई। .

घाटी में रात के समय तापमान बढ़ने से कश्मीर में मंगलवार को लोगों को ठंड से थोड़ी राहत मिली वहीं घाटी के कुछ स्थानों पर मंगलवार की सुबह हल्की बर्फबारी भी हुई। श्रीनगर में सोमवार रात तापमान दो डिग्री की बढ़ोतरी के साथ शून्य से नीचे 2.0 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। पिछली रात तापमान शून्य से चार डिग्री सेल्सियस नीचे था। काजीगुंड में तापामन -3.4 डिग्री, कोकरनाग में -3.2 डिग्री, कुपवाड़ा में -4.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। गुलमर्ग में भी आठ डिग्री की बढ़ोतरी के साथ तापमान शून्य से नीचे 3.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। लद्दाख क्षेत्र के लेह में न्यूनतम तापमान शून्य से नीचे 8.9 डिग्री सेल्सियस और कारगिल में शून्य से नीचे 15.0 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

हिमाचल प्रदेश के पर्यटन स्थलों मनाली और कुफरी में तापमान शून्य से नीचे पहुंच गया है। इसके चलते वहां ठंड काफी बढ़ गई है। मौसम विभाग ने मंगलवार को यह जानकरी दी। मौसम विज्ञान केंद्र, शिमला के मनमोहन सिंह ने बताया कि मनाली में न्यूनतम तापमान शून्य से 3.4 डिग्री सेल्सियस नीचे और कुफरी में शून्य से 0.8 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया। लाहौल और स्पीति का केलांग राज्य का सबसे ठंडा स्थान रहा, जहां न्यूनतम तापमान शून्य से 10.8 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया।

जयपुर। राजस्थान के अधिकतर हिस्सों में न्यूनतम और अधिकतम तापमान में गिरावट और ठंडी हवाओं के चलते गलन वाली सर्दी का अहसास हो रहा है। भीलवाड़ा, वनस्थली, डबोक, चूरू, सीकर, और चित्तोडगढ शीतलहर के चपेट में रहे। राज्य के अधिकतर हिस्सों में न्यूनतम और अधिकतम तापमान में कल के मुकाबले एक से तीन डिग्री सेल्सियस तक की गिरावट दर्ज की गई है।

पंजाब और हरियाणा में मंगलवार को मौसम सर्द रहने के साथ ही सुबह कई स्थानों पर कोहरे के चलते दृश्यता खराब रही। पंजाब के लुधियाना, आदमपुर, हलवारा, बठिंडा जबकि हरियाणा के हिसार और करनाल सहित कई स्थानों पर सुबह कोहरे के कारण दृश्यता काफी कम रही।

In this article