ख़बरें बदलते भारत की

भावांतर योजना में किसानों के लिए शिवराजसिंह ने किया बड़ा ऐलान

66
66

इसी साल के अंत राजस्थान और छत्तीसगढ़ के साथ मध्यप्रदेश में भी विधानसभा चुनाव होने है लिहाजा मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने किसानों के खजाने खोल दिए हैं. सोमवार को जम्बूरी मैदान में प्रदेश भर से आए किसानों को संबोधित करते हुए सीएम ने कहा कि प्रदेश का किसान कर्जमाफी या खैरात नहीं चाहता। उसे पसीने की कमाई चाहिए। इसलिए उपज का पूरा मूल्य मुख्यमंत्री कृषि उत्पादकता प्रोत्साहन योजना से दिया जाएगा।

प्रदेश में छत्तीसगढ़ की तर्ज पर न्यूनतम समर्थन मूल्य पर गेहूं और धान बेच चुके 10 लाख 21 हजार से ज्यादा किसानों को 1 हजार 670 करोड़ रुपए का तोहफा (एरियर) बांटा जाएगा।

किसान महासम्मेलन में मुख्यमंत्री ने अलग तरह से किसानों से संवाद किया। एक-एक घोषणा किसानों की सहमति लेकर की। उन्होंने कहा कि एक एकड़ में किसान को कम से कम 25 हजार रुपए बचने चाहिए। 2016-17 में न्यूनतम समर्थन मूल्य पर 7.38 लाख से ज्यादा किसानों ने 67.25 लाख मीट्रिक टन गेहूं बेचा था, उन सभी को दो सौ रुपए प्रति क्विंटल और दिए जाएंगे।

इस दौरान किसानों को भावांतर राशि के प्रमाण पत्र वितरित किए गए। 3 लाख 98 हजार किसानों को 620 करोड़ की राशि ऑनलाइन ट्रांसफर की गई। डिफॉल्टर किसानों का 2600 करोड़ ब्याज भी सरकार भरेगी।

रविवार को तेज हवाओं और बारिश ने भोपाल, ग्वालियर, छिंदवाड़ा, बैतूल, सतना, नरसिंहपुर समेत कुछ अन्य जिलों को अपनी जद में ले लिया. इससे रबी की फसल को नुकसान पहुंचा और चार लोगों की मौत हो गई. इसी वजह से चुनावों से पहले प्राकृतिक आपदा की आड़ में किसानों को मुआवजा देने का भी मौका मिल गया है.

शिवराजसिंह ने कहा कि संकट की घड़ी में नेता की पहचान होती है. मैं रोने वाला सीएम नहीं हूं. बारिश और तूफान की चिंता मत कीजिए. मैं आपके साथ हूं और भरोसा दिलाता हूं कि किसान भाइयों को बीमा क्लेम के तौर पर राहत राशि मिलेगी.

तालियों की गड़गड़ाहट के बीच चौहान ने ऐलान किया, ‘अगर कोई किसान वेयरहाउस में एक लाख की फसल रखता है तो कोऑपरेटिव बैंक किसान को एडवांस के तौर पर 25,000 रुपये देगा और बाद में किसान अपनी फसल बेचकर बैंक का पैसा लौटा देगा. हालांकि, इस एडवांस पर ब्याज शिवराज चुकाएगा.

लेकिन सियासी गलियारों में शिवराज के इस भाषण के बाद एक चर्चा ने जोर पकड़ा कि क्या शिवराजसिंह को किसान भावांतर योजना अगले विधानसभा चुनाव में जीत दिला पाएगी.

In this article