ख़बरें बदलते भारत की

10 वीं के छात्रों को मिली राहत, नहीं देना होगा री-एग्जामिनेशन

215
215

हाल ही में 10 वीं के पेपर लीक मामले के तहत कोर्ट ने री-एग्जामिनेशन को लेकर छात्रों को बड़ी राहत दे दी है। सीबीएसई की प्रश्न पत्रों की जांच करने के बाद कोर्ट ने यह फैसला लिया है कोर्ट ने बताया कि 10 वीं के पेपर में किसी तरह से छेड़छाड़ नहीं हुई है जिसके चलते कोर्ट ने यह फैसला लिया है। बता दें कुछ दिनों पहले ही यह खबर आई थी कि 10 वीं और 12 वीं के पेपर लीक हुए हैं। जिसके बाद कोर्ट ने री-एग्जामिनेशन के बारे में कहा था।

बता दें कोर्ट के ऐलान के बाद परीक्षार्थियों ने विरोध करना शुरू कर दिया था। परीक्षार्थियों का कहना है कि यह पेपर एग्जाम से पहले हुए हैं। वहीं इस बात पर केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर का कहना है परीक्षा से 30 मिनट पहले सोशल नेटवर्क के जरिए पेपर लीक हुए हैं। जिसका पता लगने के बाद जांच के आदेश दे दिए गए थे। मामले की तह तक जांच करने के लिए पुलिस को भी शामिल किया गया था। बता दें इस जांच में 25 लोगों से पूछताछ भी हुई थी जिनके पास हाथों से लिखे पेपर भी मिले थे।

In this article