ख़बरें बदलते भारत की

चंदा कोचर ने आईसीआईसीआई बैंक से दिया इस्तीफा

245
245

निजी क्षेत्र के सबसे बड़े बैंक आईसीआईसीआई के प्रबंध संचालक पद से चंदा कोचर ने इस्तीफा दे दिया है। कोचर के खिलाफ वीडियोकॉन समूह को गलत तरीके से कर्ज देने का आरोप लगा था। इस मामले में चंदा और उनके पति के शामिल होने की आशंका की लंबे समय से जांच हो रही है। अब बैंक ने संदीप बख्शी को बैंक का नया प्रबंध निदेशक और सीईओ बना दिया है।

आईसीआईसीआई बैंक बोर्ड पिछले कुछ महीनों से नए प्रबंध संचालक की तलाश में था। तभी से यह माना जा रहा था कि चंदा जल्द ही पद से हटाई जा सकती हैं। लेकिन 4 अक्टूबर को उन्होंने तत्काल प्रभाव से अपना पद छोड़ दिया।

सीबीआई ने वर्ष 2012 में बैंक द्वारा वीडियोकॉन समूह को दिए 3250 करोड़ रुपये के लोन और चंदा कोचर के पति दीपक कोचर की संभावित भूमिका की जांच शुरू की है। आरोप है कि वीडियोकॉन के चेयरमैन वेणुगोपाल धूत ने आईसीआईसीआई समेत बैंकों के कंसोर्टियम से अपनी कंपनी को लोन मिलने के बाद न्यूपावर रिन्यूएबल्स में 64 करोड़ रुपये का निवेश किया। बैंक के बोर्ड द्वारा आंतरिक जांच शुरू करने के बाद कोचर ने लंबी छुट्टी ले ली थी। अब इस्तीफा देने के पीछे यही मूल कारण समझा जा रहा है।

इसमें बैंक व वीडियोकॉन समूह के बीच हुए लेनदेन, वीडियोकॉन समूह और न्यूपावर के बीच हुए कथित लेनदेन के बारे में जानकारी मांगी गई थी। न्यूपावर में बैंक की एमडी एवं सीईओ के पति दीपक कोचर के आर्थिक हित जुड़े हुए हैं।

In this article